Business karne ka tarika- अच्छे से बिज़नेस कैसे करे?

बिज़नेस शुरू तो बहुत लोग करते है, लेकिन सफल कुछ लोग ही हो पाते है. इसका सबसे बड़ा कारण ये है की उन्हें सही से Business karne ka tarika नहीं पता होता है. तो अगर आप जानना चाहते है की, business kaise kare तो, ये ब्लॉग पोस्ट आगे पढ़ते रहिये।

आप किसी भी बिजनेसमैन से पूछियेगा तो, पता चलेगा की बिज़नेस शुरू करने से पहले कितना काम करना होता है. कोई भी आईडिया या बिज़नेस फायदेमंद नहीं हो सकता जब तक की उसपर काम न किया जाये।

जरूर पढ़े

बिना पैसे का बिज़नेस कैसे करे?

बिज़नेस टिप्स

आज इस पोस्ट में, हमलोग जानेंगे business ka tarika

जो बहुत जरुरी होता है, किसी भी बिज़नेस को सफल बनाने के लिए, आप ये बात हमेशा ध्यान में रखे की बिज़नेस प्लान करना बहुत जरुरी है, शुरू करने से पहले।
business kaise kare

ये बात भी बिलकुल सच है की, अगर आप bijnesh karne ka tarika जान जायेंगे तो सफल हो ही जायेंगे। किसी भी बिज़नेस के पीछे बहुत सारी चीज़े काम कर रही होती है, तब जाकर वो सफल हो पता है. सब business tips हर पर लागु हो जाये, ये भी नहीं कहा जा सकता है.

Bijnesh ka tarika

किसी भी बिज़नेस को शुरू करने से पहले आपको निचे दिए गए बातों का ध्यान रखना चाहिए। ये सारी चीज़े छोटी से छोटी और बड़े से बड़े बिज़नेस पर लागु होता है, चाहे वो किराना दुकान ही क्यों न हो.

  • बिज़नेस शुरू करने से पहले आप खुद को बिज़नेस करने के लिए तैयार करे, क्युकी सब-कुछ अच्छा होते-होते कुछ गलत हो जाता है. बदलते समय के अनुसार खुद को बिज़नेस को बदलना होगा।
  • आप जिस भी फील्ड में काम करने वाले है, उसकी in-depth market research जरूर करे. अपने potential client और demographics को जाने और समझे.
  • अपना online presence जरूर बनाए जैसे की- इंस्टाग्राम, फेसबुक और यूट्यूब इसके अलावा आपको अपने बिज़नेस का वेबसाइट भी बनाना चाहिए।
  • प्रोडक्ट या सर्विस सेल करने से पहले आपको अपने ब्रांड या बिज़नेस का प्रमोशन करना चाहिए, इससे आपको शुरुवाती कस्टमर मिलने में आसानी होगी।

ये आर्टिकल उनलोगो के लिए है, जिनलोगो ने कभी बिज़नेस नहीं किया है.

कुछ लोग ये तो समझते है की, मेहनत करना जरुरी है, बिज़नेस को खड़ा करने के लिए, लेकिन शायद उन्हें ये नहीं पता होता है की, इसके अलावा भी बहुत सारे कदम उठाने पड़ते है, business goal को पाने के लिए.

आपके बिज़नेस का जो भी goal है, उसे पाने के लिए आपको ये पता करना पड़ेगा की कौन सा कदम उठाया जाये जो आपको आपके सफलता के करीब लेकर जायेगा।

एक बात और बोलना चाहूंगा की, बिज़नेस का नाम और logo चुनना एक दम बेसिक चीज़ है, इसकी बात हमलोग इस पोस्ट में नहीं करने वाले है.

Business karne ka tarika

तो अब हमलोग लोग Business karne ka tarika जान लेते है जो, उतने ही जरुरी है जितना की नाम और logo चुनना।

bijnesh karne ka tarika में सबसे पहले आता है, बिज़नेस/आईडिया चुनना।

बिज़नेस/आईडिया का चुनाव

क्युकी, आप बिज़नेस करना चाहते है तो, काफी ज्यादा चान्सेस है की, आपके दिमाग में कोई न कोई आईडिया होगा ही की आप क्या बेचेंगे? ये नहीं तो इतना तो जरूर होगा की आप किस तरह के बाजार में घुसना चाहते है.

Clear Light Bulb Placed on Chalkboard

तो आप जिस भी इंडस्ट्री में जाना चाहते या जो भी बिज़नेस करना चाहते है, उसका थोड़ा रिसर्च करे, जो लोग उसमे पहले से है.

आप ये जानने की कोसिस करे की आपके इंडस्ट्री जो भी अभी अच्छा कर रहा है, वो क्यों कर प् रहा यही और आप कैसे कर सकते है.

अगर आपको लगता है की उनके बिज़नेस में कुछ कमी है और आप उसे पूरा कर सकते है, तो शायद आपके पास एक अच्छा बिज़नेस आईडिया है.

इसमें एक बात आप जरूर ध्यान में रखे, आपको खुद से एक सवाल पूछना है की “आप क्यों बिज़नेस करना चाहते है” बिज़नेस करने का मक़सद पर्सनल है या बाजार के जरुरत के कारण कुछ और.

अगर आप बिज़नेस मार्केटप्लेस(बाजार की जरुरत देखते हुए कर रहे है) को नज़र में रख कर कर रहे है तो, बहुत उम्मीद है की आप अपने बिज़नेस को बहुत स्केल कर पाएंगे।

मेरी सलाह यही की आपको बाजार की जरुरत के अनुसार बिज़नेस करना चाहिए। इंटरेस्ट भी matter करता है.

अगर आपको नहीं समझ आ रहा है की कौन सा बिज़नेस करे तो आप इन दो केटेगरी को चेक कर सकते है-

तो अगर आपने इस सेक्शन को पूरा कर लिया है तो अब आप बिज़नेस प्लान बनाने के लिए तैयार है.

बिज़नेस प्लान लिखे

My Secret Plan to Rule the World Book

एक बार आपने आईडिया चुन लिया तो उसके बाद आपको कुछ सवालो के जवाब लिखने है कॉपी पर. सवालो के लिस्ट निचे दिया गया है-

  1. बिज़नेस करने का कारण क्या है?
  2. आप प्रोडक्ट/सर्विस किसको बेचेंगे?
  3. आपका बिज़नेस गोल क्या है?
  4. बिज़नेस शुरू करने के लिए पैसे कहाँ लाएंगे?

इन सवालों के जवाब होना जरुरी है, आपके बिज़नेस पालन में, और आमतौर पर इसे ही बिज़नेस प्लान कहते है. सबसे पहला सवाल है की, आप करना क्यों चाहते है, इसके बारे में हमने पहले वाले सेक्शन में बात किया है.

आपको शुरू होने से पहले ये जानना होगा की आप अपने प्रोडक्ट या सर्विस को किसको बेचेंगे? आपके प्रोडक्ट की बाजार में मांग है या नहीं, अगर है तो कितना क्युकी इससे आप ये पता कर पाएंगे की आपका बिज़नेस कितना बड़ा हो सकता है. और अगर मांग नहीं है तो, आप बिज़नेस किसके साथ करेंगे।

और सबसे बारे सवाल ये है की आप बिज़नेस शुरू करने के लिए पैसे कहाँ से लाएंगे? पैसे आपके सेविंग के हो सकते है, बैंक से लोन ले सकते है, इन्वेस्टर ढूंढ सकते है. बिज़नेस के शुरुवाती समय में आपके पास पैसे नहीं आने वाले है ये आपको समझ लेना है पहले ही.

कुछ समय तक बिज़नेस को चलाने का फण्ड आपके पास होना चाहिए। इसके अलावा आपको एक और चीज़ पर ध्यान रखना होगा “exit plan” ये भी बहुत जरुरी स्टेप है, इसमें आपको ये देखना होगा की अगर कुछ दिक्कत आती है तो आप बिज़नेस से बहार कैसे निकलेंगे। Business karne ka sahi tarika में ये बहुत इम्पोर्टेन्ट स्टेप है.

अब हमलोग अपने अगले तरीके को समझने की कोसिस करते है. जो, है पैसों का जुगाड़, जो किसी भी बिज़नेस का प्राण होता है. ये खत्म तो बिज़नेस खत्म।

पैसों का जुगाड़(Finance)

काम(bijnesh)शुरू करने के लिए पैसो की जरुरत होती है. तो आपको ये सोचना होगा की आप पैसे कहाँ से लाएंगे और जो खर्चे है वो आप कैसे पूरा करेंगे।

Person Counting Money With Smartphones in Front on Desk

क्या आपके पास कोई है जो आपके बिज़नेस में पैसे लगाएगा, या आपको उधार या लोन लेना पड़ेगा। आप जो अभी काम(नौकरी) कर रहे है, उसे आप झोड़कर अपने बिज़नेस पर ध्यान देंगे, या आपके पास पैसे है, जिनका आप इस्तेमाल करेंगे तब तक, जब-तक की आप अपने बिज़नेस से मुनाफा कमाने लगे. एक काम आप कर कर सकते है की, आप ये पता कर लें की आपको कितना खर्च आने वाला है, इससे आपको बहुत आसानी होगी।

बहुत सारे स्टार्टअप/बिज़नेस कुछ समय में फेल हो जाते है क्युकी, उनके पास पैसे नहीं होते है बिज़नेस चलाने के लिए, जब तक उनका कंपनी मुनाफा कमाने लगे. आपको जितने पैसे चाहिए बिज़नेस रन करने के लिए, आप उस अमाउंट से ज्यादा पैसे ही मान कर चले.

ऐसा इसीलिए की कई बार, कैलकुलेशन सही करने के बाद भी वो फिट नहीं हो पता है. मान लीजिये की आपने कैलकुलेट किया की आपका बिज़नेस 12 महीने में फायदा कमाने लगेगा, लेकिन किसी कारण ऐसा नहीं हो पाता है, तो यहाँ पर आपका एक्स्ट्रा पैसे काम करेगा।

business karne ka tarika में ये भी आता है की आप पैसों और समय का अनुमान ज्यादा लेकर चले. Business karne ka naya tarika नहीं खोजे पहले आप बिज़नेस शुरू करे, अगर आपके पास कोई नया तरीका है बिज़नेस करने का तब तो बहुत अच्छी बात है.

आप हमेशा business ka sahi tarika जाने और समझे। इसके लिए आप बिज़नेस बुक पढ़ सकते है.

Business का लीगल स्ट्रक्चर

हमलोगो ने बिज़नेस आईडिया चुन लिया, बिज़नेस प्लान बना लिया और हमने पैसों का भी जुगाड़ कर लिया, अब बारी है अपने बिज़नेस को शेप देने का.

हमे कोई भी बिज़नेस लीगल कागज/ डाक्यूमेंट्स और दर्जा लेकर शुरू करना चाहिए इससे आगे किसी भी तरह की परेशानी नहीं होती है.

आप अपने बिज़नेस को अपने राज्य में रजिस्टर/पंजीकरण जरूर करवाए। रजिस्टर करवाने से पहले आप ये जरूर सोच लें की आपका लीगल बिज़नेस स्ट्रक्चर क्या होगा। क्युकी इसी से पता चलेगा की, टैक्स कैसे भरेंगे और अगर कुछ गलत हो जाता है तो, उसकी भरपाई कैसे होगी।

आमतौर पर बिज़नेस तीन तरह के होते है.

बिज़नेस कितने तरह के होते है?

समान्यतः बिज़नेस चार तरह के होते है. Sole proprietorship, Partnership, Corporation और LLC(Limited liability company).

  1. Sole proprietorship- अगर पूरा का पूरा बिज़नेस आपका है, तो वो sole proprietorship के अंदर आता है, क्युकी बिज़नेस का मालिक सिर्फ एक है. ऐसा बिज़नेस करने के लिए अगर आप लोन लेते है, और उसकी भरपाई नहीं कर पाते है तो, आपकी संपत्ति से उसकी भरपाई की जाएगी।
  2. Partnership- इसका सीधा मतलब ये है की, ऐसे बिज़नेस जिसको दो या उससे अधिक लोगो ने मिलकर शुरू किया हो, तो वो पार्टनरशिप के अंदर आता है.
  3. Corporation- इसमें आपकी खुद की संपत्ति आपके बिज़नेस के संपत्ति से अलग होती है. इस तरह का बिज़नेस की अलग पहचान होती है, अपने मालिक से. कारपोरेशन अपने नाम का प्रॉपर्टी लें सकता है, सीधे-तौर पर बोले तो, ये बिलकुल एक इंसान के तरह होता है, इसकी अपनी एक अलग पहचान होती है.
  4. LLC- ये बहुत common business structure है, इसे hybrid business strucutre भी बोल सकते है. इस तरह के बिज़नेस के पास corporation जैसे अपनी अलग पहचान होती है और partnership जैसी टैक्स फायदे होते है.

इसमें आप खुद चुन सकते है की, कौनसा बिज़नेस स्ट्रक्चर आपके लिए अच्छा रहेगा। अगर आपको नहीं समझ आ रहा है तो आप किसी लीगल एडवाइजर से बात कर सकते है.

बिज़नेस का पंजीकरण

इतने कामों को करने के बाद बारी आती है, बिज़नेस पंजीकरण की, जो बहुत जरुरी है.

बिज़नेस का तरीका में ये भी आता है की, आप अपने बिज़नेस को रजिस्टर करवाए अपने सरकार के साथ. Business karne ka tarika में ये भी एक बहुत जरुरी काम है.

आपको बिज़नेस शुरू करने से पहले बहुत सारे license की जरुरत पड़ती है, अगर आप रजिस्ट्रेशन करवाएंगे तो आपको बहुत आसानी होगी। बिज़नेस पंजीकरण करने के बहुत फायदे है, जैसे की- लोन मिलने में आसानी और टैक्स में छूट जैसी चीज़े।

तो ये काम आपको जरूर से जरूर करना है. इसी के साथ अब हमलोग आगे की बात कर लेते है.

इन्शुरन्स पॉलिसी

ज्यादातर लोग इस चीज़ को तवज़्ज़ो नहीं देते है, लेकिन ये जरुरी है. और ये काम आपको बिज़नेस शुरू करने से पहले ही करना चाहिए।

कभी अगर बिज़नेस प्रॉपर्टी डैमेज होता है, चोरी होती है या किसी कस्टमर या क्लाइंट कुछ लीगल अनबन होती है तो ये आपके लिए महंगी शाबित हो सकती है. ऐसी ही स्थिति में business insurance काम आती है.

अलग-अलग तरह के इन्शुरन्स होते है, छोटे बिज़नेस के लिए भी होता है, आप ऐसा बेसिक इन्सुरेंस लें, जिसमे आपको ज्यादा से ज्यादा फायदा हो सके.

  1. worker compensation
  2. unemployment insurance, इस इन्सुरेंस के बारे में ज्यादातर भारतीय नहीं जानते है. राजीव गाँधी श्रमिक कल्याण योजना के तहत भारत सरकार द्वारा मिलता है.
  3. GL insurance

ये इन्सुरेंस के उदहारण है.

बहुत तरह के इन्सुरेंस होते है, लेने से पहले उनके बारे में पूरी तरह से जानकारी जरूर लेलें।

अपने बिज़नेस को बुरे समय से बचाने के लिए bsuiness insurance policy जरूर ले.

अच्छे वर्कर ढूंढे।

अगर आप अकेले बिज़नेस करने वाले है, लोग business kaise kare, ये तो जानना चाहते है, लेकिन कुछ ऐसी बातें होती है, जिसपर बहुत ध्यान देना होता है, जैसे की- अच्छे वर्कर।

अच्छे वर्कर से आपके बिज़नेस की पहचान होती है और आपके बिज़नेस की फ्री में प्रचार भी हो सकता है.

अगर आप दुकान खोल रहे है तो भी आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए।

Business karne ka tarika होता है की, आप लोगो के पेरशानी और ज़रूरत को समझे और उसे पूरा करे. इस काम में आपके workers ही आपकी मदद करते है. बिज़नेस सफल बनाने में आपके वर्कर्स का बहुत बड़ा हाथ होता है.

आपके workers से आपका बिज़नेस चल भी सकता है और डूब भी सकता है.

आप ऐसे काम करने वालो को काम पर रखे जो उस काम को करने में माहिर हो.

बिज़नेस का मार्केटिंग करे

नए बिज़नेस के लिए मार्केटिंग जरुरी होता है, क्युकी शुरुवाती समय में आपके बिज़नेस के बारे लोग न के बराबर जानते है.

अभी के समय में मार्केटिंग करना आसान हो गया है, मार्केटिंग आप दो तरीकों से कर सकते है, ऑनलाइन मार्केटिंग और ऑफलाइन मार्केटिंग।

आज के समय में digital marketing ज्यादा प्रभावशाली और किफायती भी है. लेकिन ये आप पर डिपेंड करता है की, आप कोनसा तरीका चुनते है.

आप अपने बिज़नेस का सोशल मीडिया प्रजेंस बनाये जय की- इंस्टाग्राम, फेसबुक और ट्विटर, इसके अलावा अपने बिज़नेस से रिलेटेड ब्लॉग भी बनाये ये बहुत ज्यादा मददगार होता है, सेल्स लाने में और मार्केटिंग करने में.

अब इसी के साथ हमलोग अपने business karne ka tarika का आखिरी टॉपिक के बारे में बात कर लेते है.

बिज़नेस को बढ़ाये

हमने ये जाना की, business kaise kare, हमने ये भी जाना की हमे किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, इस दौरान, अब अंत में ये जान लेते है की, बिज़नेस कैसे बढ़ाये?

बिज़नेस को लांच कर कुछ प्रोडक्ट्स बेच देना ये बस आपके सफर की शुरुवात है.

बिज़नेस से फायदा कमाने के लिए जरुरी है की, आप अपना business grow करते रहे, ये चीज़ आपका बहुत समय लेने वाला है, और आपका मेहनत भी, लेकिन आपके मेहनत का फल आपको जरूर मिलेगा अगर आप सही दिशा में काम करेंगे तो.

आपको हमेशा नए-नए तरीके ढूंढते रहना होगा, जो आपके बिज़नेस को फायदा पहुचायेगा। जैसे की- नए तकनीक का इस्तेमाल हमेशा नए और बेहतर प्रोडक्ट्स को बाजार में लाते रहना।

अपने इंडस्ट्री के दूसरे बिज़नेस पर नज़र रख उनसे अच्छा करने का कोसिस, आप उनके साथ मिलकर भी काम कर सकते है. आप influencers या दूसरे established ब्रांड्स के साथ मिलकर अपने प्रोडक्ट्स/सर्विस को प्रमोट कर के भी अपना बिज़नेस ग्रो कर सकते है.

और भी कई तरीके है, जिससे आप अपने बिज़नेस को बढ़ा सकते है. ये बात आप हमेशा ध्यान में रखे की, कोई भी प्लान परफेक्ट नहीं होता है. ये हमारा आखिरी टॉपिक था बिज़नेस बढ़ाने के बारे में.

बिज़नेस एक ऐसा चीज़ है, जिसे शुरू करना तो आसान है लेकिन इसे profitable और continue रखना बहुत मुश्किल काम है. ये आपका सब्र, समय और पैसा तीनो लेगा, अगर आप ये तीनो इसको दे सकते है तभी इसे शुरू करे, वर्ना आप कोई दूसरा काम करे.

इस पोस्ट के लिए बस इतना ही, इसे दुसरो के साथ whatsapp, फेसबुक, टेलीग्राम और ट्विटर पर जरूर शेयर करे. इसके अलावा आप हमारे टेलीग्राम चैनल को भी ज्वाइन कर सकते है.

Leave a Comment